विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव किसे कहते है?

विद्युत् धारा का उष्मीय प्रभाव किसे कहते है

Physics में विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव या heating effect of electric current या विद्युत धारा का तापीय प्रभाव 12th और 11th के महत्वपूर्ण chapter में से एक है विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव दर्शाने वाले यंत्रो की भी बात इस पेज में करेंगे जैसे electric bulb,electric heater,fuse तार

आपने कभी अपने table fan को उपयोग तो किया ही होगा जब आप अपने table fan को चालू करते है और वह कुछ देर तक चलता है फिर आप उसे बंद करने जाते है तब आप देखेंगे कि उसका पीछे का भाग गर्म हो गया है यह क्या है इसका answer है कि यही विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव है

विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव क्या है

तार में flow हो रही विद्युत धारा या electric current कुछ देर बाद उसे गर्म कर देता है यही विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव है

इसमे विद्युत ऊर्जा सीधे उष्मीय ऊर्जा में परिवर्तित हो जाती है

चुकी उष्मा भी ऊर्जा का रूप है इसलिए इसे मापा भी जा सकता है विद्युत अपना उष्मीय प्रभाव दर्शाने में कितना व्यय करती है

विद्युत ऊर्जा का उष्मीय ऊर्जा में रूपांतरण क्यों होता है

वास्तब में विद्युत धारा उष्मीय प्रभाव क्यों दर्शाती है इसका कारण है कि जब हम तार या किसी भी चालक में धारा प्रवाहित करते है तो तार के हर point पर विद्युत क्षेत्र पैदा हो जाता है आप जानते होंगे कि इसकी विपरीत दिशा में इलेक्ट्रान जाने लगते है विद्युत क्षेत्र के उल्टी दिशा में इलेक्ट्रान गतिमान होते है तब वे तार के धन आयनों से टकराते है तो विद्युत धारा का loss होता है यही उष्मा या ताप में बदल जाती है इस प्रकार विद्युत धारा अपना उष्मीय प्रभाव दर्शाती है

विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव दर्शाने वाले उपकरण

जो उपकरण विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव दर्शाते हैं वे सभी गर्म होते है जब उन में विद्युत बहने लगती है जैसे विद्युत बल्ब,विद्युत प्रेस यानी स्त्री ,विद्युत ऊष्मक हीटर,फ्यूज तार इन सभी उदाहरण की detail नीचे है

विद्युत बल्ब

सबसे आसान और ज्यादा दिखने वाला उदाहरण विद्युत बल्ब है आपने देखा होगा कि विद्युत बल्ब गर्म हो जाता है इसमे टंगस्टन का पतला तार होता है जिसे विद्युत फिलामेंट कहते है एक कांच के वर्तन में वैक्यूम क्रिएट करके या निर्वात बना के इस फिलामेंट में धारा प्रवाहित की जाती है तब यह जलने लगता है इस filament का तापमान 2000℃ से ज्यादा हो जाता है

फ्यूज तार

यह एक तार होता है जिसे फ्यूज तार कहते है यह एक circuit protector का काम करता है यह तार तांबे,लेड और तीन की मिश्र धातुबक पतला तार होता है इसका गलनांक कम होता है जब सर्किट में धारा प्रवाहित की जाती है तो यह तार गर्म होता है और जब जरूरत से ज्यादा धारा प्रबहित होती है तो यह भी ज्यादा गर्म हो जाता है और यही इसका गलनांक होता है इस लिए ये गल के टूट जाता है और सर्किट में तेज धारा नही बह पाती है इस प्रकार फ्यूज तार विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव दर्शाता है

विद्युत heater

Heater जो कमरे को गर्म करता है और जिस पर खाना बनाते है सभी विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव दर्शाते हैं विद्युत हीटर में नइक्रोम का तार सर्पिलाकार आकृति में होता है जिसमे विद्युत धारा बहाने पर वह तार बहुत ज्यादा गर्म हो जाता है

यह page जो विद्युत धारा का उष्मीय प्रभाव और इसे दर्शाने वाले उपकरण की जानकारी के लिए था यह आपके काम आया हो तो इसे शेयर जरूर करें नीचे buttons है

Related

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *